टोल प्लाजा के कर्मियों द्वारा दिखाई गई इंसानियत।

0
131

ढाई साल के मासूम बिछड़े बच्चे को मिलाया परिजनों से,,औरैया

औरैया : जनपद में मानवता की एक मिसाल देखने को मिली जहां एक नन्हे मासूम को कड़ी मेहनत के बाद उसके परिजनों से मिलवाया गया। जी हां मामला औरैया जनपद के अनन्तराम टोल प्लाजा का जहां कमालु अपनी पत्नी एवं मां के साथ कानपुर देहात के डेरापुर से मैनपुरी रिस्तेदारी में जा रहा था।तभी रोडवेज बस औरैया के अनन्तराम टोल प्लाजा पर खराब हो गई ।बस खराब होने पर ड्राइवर द्वारा बस की सवारी दूसरी बस में ट्रांसफर की गई ।जिसमें कमालु अपनी पत्नी एवं मां के साथ बस में चढ़ गया।सोचा बच्चा भी चढ़ गया होगा और बस चलती बनी ।ढाई साल का सैफू टोल प्लाजा पर भटकता नजर आया तभी टोल कर्मियों ने डीजीएम सत्यवीर को सूचना दी डीजीएम ने बच्चे को अपने पास बैठा लिया तब तक खराब हुई रोडवेज का ड्राइवर बच्चे के पास पहुँच गया जिसने बच्चे के परिजनों के बारे में बताया कि बच्चा कहाँ से बैठा था इसकी पूरी जानकारी मिलने के बाद डीजीएम ने बच्चे को ले जाकर अपने ऑफिस में खाना खिलाया वहीं टोल प्लाजा डीजीएम द्वारा इटावा शिकोहाबाद बाद टोल पर सूचना कर दी गई ।परिजन कमालु एवं उसकी पत्नी शिकोहाबाद बाद में अपने बच्चे को ढूंढने में लगे थे वहीं उसकी दादी मासूमन बच्चे को इटावा में तलाश कर रही थी तभी दादी को सूचना मिली सैफू अनन्तराम टोल प्लाजा पर है।तत्काल बच्चे की दादी को अनन्तराम टोल प्लाजा पर लाया गया और को डीजीएम द्वारा बच्चे को उसके परिजनों को सौप दिया।बच्चा परिजनों के बीच पहुँचकर दादी को देखते ही प्यार से लिपट गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here