रामकुमार भारतीय महाविद्यालय में भी मनाई गयी बसन्त पंचमी ।

0
739

औरैया फफूंद नगर के दिवियापुर रोड पर स्थित रामकुमार भारतीय ज्ञानदेवी महाविद्यालय में भी बसंत पंचमी कार्यक्रम का आयोजन किया गया इस दौरान महाविद्यालय के निर्देशक सैयद सुल्तान अहमद ने सभी अध्यापकों को विद्या की देवी के बारे में बताया, कार्यवाहक प्राचार्य डॉ० विवेक शर्मा ने कहा भगवान श्रीकृष्ण ने बसंत पंचमी के दिन ही प्रथम बार देवी सरस्वती की आराधना की थी।बसंत ऋतु आते ही प्रकृति का कण−कण खिल उठता है। मानव तो क्या पशु−पक्षी तक उल्लास से भर जाते हैं।प्राचीनकाल से इसे ज्ञान और कला की देवी मां सरस्वती का जन्मदिवस माना जाता है जो शिक्षावदि् भारत और भारतीयता से प्रेम करते हैं, वे इस दिन मां शारदे की पूजा कर उनसे और अधिक ज्ञानवान होने की प्रार्थना करते हैं। इस मौके पर महाविद्यालय का समस्त स्टाफ उपस्थित रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here